कम्प्यूटर का परिचय

कम्प्यूटर का परिचय

कम्प्यूटर  का परिचय

कम्प्यूटर हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है | क्या आपको कभी हैरानी होती है | कि सडक पर ट्रेफिक लाइट (लाल पीली -हरी बत्तिया ) कौन जलता है | फ्रिज का तापमान कौन नियंत्रित करता है| मॉल में आपकी शोपिंग का हिसाब -किताब कौन करता हैं| आपको फोन में फिंगरप्रिंट की पहचान कौन करता हैं|

कम्प्यूटर क्या है ? 

कम्प्यूटर एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक यंत्र (device) है जिसका उपयोग आंकड़ो को इकटठ करके उसे उपयोगी  जानकारी में बदलने के लिये किया जाया है| यह जानकारी अंक ‘शब्द फिल्मे या आवाज के रूप में हो सकती हैं| कम्प्यूटर द्वारा इकट्ठी कि गई जानकारी को डेटा भी कहते है| यह डेटा इनमे से कुछ भी हो सकता है जैसे आपका शोपिंग बिल परीक्षा में प्राप्त विभिन्न विषयों के नम्बरों का टोटल ‘यह किसी कम्पनी में काम करने वाले लोगो का नाम वजन लंबाई और पता भी हो सकता है|

प्रकार  

कम्प्यूटर कई प्रकार के होते है जो आपके आकर बनावट सुविधाओं और उधेश्य  के आधार पर अलग अलग होते है| नीचे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाले कम्प्यूटर दिये है|

पर्सनल कम्प्यूटर (pc)   

पीसी एक ऐसा कम्प्यूटर होता है जिसका उपयोग निजी इस्त्तेमालो के लिये किया जाता है इसे इस्त्तेमाल करना आसन है इसके फन्शन आसान है और ये सुविधाजनक सइज और कम कीमत में मिलता है| आजकल PC के बिना काम करना बहुत मुश्किल हो गया है| ये दो प्रकार के होते है|

  1. डेस्कटॉप  कम्प्युटर
  2. लैपटॉप

डेस्कटॉप कम्प्यूटर

डेस्कटॉप कम्प्यूटर एक ऐसा पर्सनल कम्प्यूटर होता है जो मेज पर एक जगह रखा होता है| इसे हर जगह नही ले जाया जा सकता| यह भरी होता है और एक स्थायी जगह पर रखा होता है| इसके बहरी हिस्से (hardware device ) तारों द्वारा एक दुसरे से बंधे होते है|

लैपटॉप

लैपटॉप एक छोटा कम्प्यूटर है जो बैटरी से चलता है| इसमें एक स्क्रीन और अल्फान्यूमेरिक कीबोर्ड होता है| इसे बंद करके कही भी ले जा सकते है|

स्मार्टफोन

यह एक ऐसा मोवाइल फोन है जिसमे मोबाइल फोन और कम्प्यूटर दोनों के फीचर होते है| इसमें बहुत सरे एप्लीकेशन (जिन्हें एप्स भी कहते है ) इंटरनेट कि सुविधा और एक आपरेटिंग सिस्टम हेता है जिससे यह कम्प्यूटर के सभी कम बहुत तेजी के साथ करता है| आप स्त्मस्त[ स्मार्टफोन का इस्त्तेमाल बजट कि बजे स्क्रीन पर टच करके लर सकते है|

कम्प्यूटर को इस्तेमाल करना

डेस्कटॉप/ लैपटॉप के ऑन करना

सीपीयू या मॉनिटर से जुड़े प्लग स्विच ऑन करे सुनिशचित करे की की लैपटॉप का चार्जर उसके सॉकेट से लगा हुआ है या नहीं और आपकी बैटरी पूरी  चार्ज है

आपने सीपीयू या लैपटॉप की – बोर्ड का चार्ज बटन ढूढे और कम्प्यूटर या लैपटॉप स्टार्ट करने के लिये उसे दबाये|

डेस्कटॉप/ लैपटॉप को ऑफ करना

1 स्टार्ट बटन पर क्लिक करे| स्टार्टबटन डेस्कटॉप में सबसे नीचे बाई ओर एक विंडो बटन होता है|

2 जब आप स्टार्ट मेन्यू पर किल्क करते हैं तब ये कई विकल्पों और प्रोग्राम्स की एक सूची खोल देगा| मेन्यू के सबसे नीचे दाई ओर शट डाउन नाम का बटन को दबाते ही कम्प्यूटर बंद हो जायेगा

3 अगर कुछ डाक्यूमेंट्स सेव नही हुए है तो ऑपरेटिंग सिस्टम उन्हें शट डाउन करने से पहले बंद करने को कहेगा| आप कैंसल का विकल्प चुनकर डाक्यूमेंट्स के पहले सेव क्र सकते है या फ़ोर्स शट डाउन का बटन दबाकर उन डॉक्युमेंट को बिना सेव किये आगे बढ़ सकते है|

नोट    

डेस्कटॉप कम्प्यूटर या लैपटॉप को पॉवर बटन दबाकर नहीं बंद करना चाहिए इसका इस्तेमाल कम्पुटर को ऑन करने के लिये किया जाता है | इससे स्सके डेटा और प्रोसेसर को नुकसान होने का खतरा रहता है|

 डेस्कटॉप या लैपटॉप को री -स्टार्ट करना      

री -स्टार्ट विकल्प के इस्तेमाल तब किया जाता है जब कोई प्रोग्राम काम  करना बंद कर डेटा है| री- स्टार्ट का बटन दबाने से कम्प्यूटर पहले अपने आप बंद हो जाता है फिर आपने आप ऑन  हो जकता है| कम्प्यूटर को री स्टार्ट करने से पहले अपना डेटा सेव करना ना भूले| ऐसा नहीं करने पर डेटा डिलीट  हो जाता है|

की- बोर्ड का इस्तेमाल करना    

यह एक इनपुट डिवाइस है (input device ) जिसका इस्तेमाल अंको चिन्हों को अंकित करने के लिये और कमांड देने के लिये क्या जाता है| की बोर्ड कई तरह के होते है| ज्यादातर QWERTY की बोर्ड का इस्तेमाल किया जाता है जिसका नाम की पहली लाइन के प्रथम छह वार्ड के आधार पर किया जाता है|

की-बोर्ड में कई प्रकार के बटन होते है|  

विशेष बटन

कम्प्यूटर में मौजूद कुछ बिशेष ब्त्मो का इस्तेमाल कभी-कभी अकेले और कई मौकों पर अन्य बटनों के साथ किया जाता है| Ctrl’ Alt Est tab shift caps lock और विंडो लोगो आदि कुछ विशेष बटन होते है|

इन बटनों का इस्तेमाल एनी बटनों के साथ कमांड देने के लिये किया जाता है|

1 Shift के साथ कोई दूसरा अक्षर बटन दबाने पर उसका बड़ा अक्षर बन जाता है|

2 Caps lock बटन दबाने पर सरे अक्षर बड़े टाइप होने लड़ते है तब Shift बटन दबाने की जरूरत नही होती| इस फंक्शन को ऑफ़ या ऑन किया जा सकता है|

3 विंडो लोगो का बटन दबाने पर स्टार्ट स्क्रीन खुल जायेगी| विंडो में इसका इस्तेमाल दुसरे बटनों के साथ काम काज के जिया किया जाता है|

फंक्शन बटन

की-बोर्ड में  से लेकर F12 तक कुल 12 फंक्शन बटन होते है सभी का अपना अलग-अलग कम होता है (जैसे F1 का इस्तेमाल  सहायता के लिये होता है और F2 का इस्तेमाल फ़ाइल् या फोल्डर का नाम बदलने के लिये या कई बार ब्राइटनेस आवाज या वाई फाई को नियंत्रित करने के लिये किया जाता है|

अल्फान्यूमेरिक बटन

ये अक्षर अंक सिम्वल और Spacebar Tab Key Backspace and Enter आदि होते है|

1 खाली जगह छोड़ने के लिये Spacebar दबाये

2 Cursor को अगली लाइन पर ले जाने के लिये Enter का बटन दवायें|

3 Cursor से पहले के टाइप किये हुये अक्षर या टेक्स्ट को मिटाने के लिये Backspace दबाये |

नेवीगेशन बटन 

इन बटनों का इस्तेमाल डाक्यूमेंट्स में या वेब पेजों में टेक्स्ट को एडिट करने के लिये किया जाता है| Delete insert home PG up PG DN   आदि को नेविगेशन बटन कहते है |

1 कर्सर को किसी भी लाइन की शुरुआत में लाने के लिये या वेबपेज में सबसे ऊपर लाने के लिये Home बटन दबाये |

2  कर्सर को सेलेक्टेट टेक्स्ट के पास ले जाने के लिये दया तीर बाया तीर ऊपर तीर नीचे तीर बटन दबाये| आप इन बटनों को वेबपेज के जरिये तीर की दिशा में ले जाने के लिये भी इस्तेमाल कर सकते है|

3 कर्सर को किसी भी लाइन के आखिर में लाने लिये या वेबपेज में सबसे नीचे लाने के लिये End  बटन दबाये|

4 कर्सर को इधर उधर ले जाने के लिये या स्क्रीन को पेज अप करने के लिये Pag Up बटन दबाये |

5 कर्सर को इधर उधर ले जाने के लिये या स्क्रीन पेज डाउन करने के लिये Pag Down बटन दबाये|

6 कर्सर के बाद के केरेक्ट्स्र को डिलीट करने के लिये Delete बटन दबाये| विडो में इस्तेमाल करने पर Delete का इस्तेमाल करके टेक्स्ट को Recycle Bin में भेज दिया जाता है|

न्यूमेरिक बटन           

न्यूमेरिक कीपैड की तरह दीखता है| इस कीपैड में अंक और कुछ गणितीय चिन्ह जैसे जोड़ का चिन्ह(+) जिसका इस्तेमाल जिसका इस्तेमाल जोड़ने के लिये किया जाता है| अंको को तेजी से दर्ज करने में ये सहायक होते है|

1 न्यूमेरिक कीपैड को ऊपर-नीचे दाये बाये नेवीगेशन के लिये इस्तेमाल किया जाता है नम्बर मोड़ से नेवीगेशन मोड़ में जाने के लिये NUM Lock बटन दवाये|

2 की-बोर्ड में तीन अतिरिक्त बटन Print Scroll Lock और  Pause भी होते है| विभिन प्रोग्राम में इनका इस्तेमाल अलग होता है|

3 तीर (arrow)बटनों का इस्तेमाल रोकने के लिये Lock दबाये |

4 किसी प्रोग्राम को इस्तेमाल करते समय उसे रोकने के लिये pa   use बटन दवाये चलते हुए प्रोग्राम को रोकने के लिये pause बटन ctrl के साथ दबाये

माउस का इस्तेमाल 

माउस की समझ

माउस का इस्तेमाल कम्प्यूटर स्क्रीन को ढूढने आइकन पर क्लिक करने डाक्यूमेटस को खोलने फोल्डर्स के जरिये इधर से उधर करने और अन्य कई काम करने के लिये किया जाता है|

माउस के भाग

माउस के ऊपरी हिस्से के तीन भाग होते है|

बयां बटन \क्लिक

इसका इस्तेमाल किसी भी ऑप्शन पर क्लिक करने या किसी ऑब्जेक्ट को चुनने के लिये किया जाता है|

दांया बटन\क्लिक

इसका इस्तेमाल आपरेशन की सूची खोलने में किया जाता है जिनका उपयोग स्क्रीन पर किसी आइकन को चुनने में किया जाता है|

व्हील या स्कोल

यह दाये बटन और बाये बटन के बीच में होता है| और CURSOE को विंडो में ऊपर नीचे करने के लिये या स्क्रोल करने के लिये इस्तेमाल होता है|

डबल क्लिक

डबल क्लिक का इस्तेमाल किसी विशेष फ़ाइल \फोल्डर को खोलने के लिये होता है या विंडो के किसी प्रोग्राम को RUN करने के लिये होता है|

डेस्कटॉप स्क्रीन

कम्प्युटर ऑन करने यूजर चुनने के बाद मोनिटर पर जो स्क्रीन दिखायी देती है उसे डेस्कटॉप कटे है डेस्कटॉप एक कम्प्यूटर डिस्प्ले एरिया होता है जो फ़ाइल् इडोक्युमेंट राइटिंग टूल्स आदि को प्रदशिर्त करता है| डेस्कटॉप पर जो प्रतीक होते है उन्हें आमतोर पर आइकन्स कहा जाता है|

आईकान

पिछले डेस्कटॉप की जो इमेज दिखाई गई थी हमने देखा कि उसमे छोटी छोटी तस्वीरे दिखाई दे रही है जीन पर MY NETWORK MY PLACES MY DOCUMENTS AND RECYCIE BIN लिखा हुआ था इन छोटे छोटी तस्वीरों को ही आइकन्स कहा जाता है|किसी आइकन पर क्लिक करने पर कम्प्यूटर को पता चलता है कि आप उस प्रोग्राम को इस्तेमाल करना चाहते है| MY NETWORK PLACES MY DOCUMENTS AND RECYCLE BIN आदि कम्प्यूटर पर दिखाई देने वाले आधिकारिक आइकन है|

रिसायकल बिन

रिसायकल बिन का इस्तेमाल विडो कम्प्यूटर के द्वारा डिलीट की गई चीजो को अस्थायी रूप में सेफ रखता है|यह फाइलों और फोल्डरो को स्थायी रूप से डिलीट होने तक सेफ रखता है रिसायकल बिन विडो से डिलीट की गई चीजो को वास्तविक जगहा पर दोबारा रीस्टोर करने की सुविधा भी देता है|

माई कम्प्यूटर     

विंडो में MY COMPUTER डेटा कंट्रोल पैनल ड्राइव आदि का स्रोत होता है| विस्टा और इसके बाद बाद के वर्जन्स में इसे केवल COMPUTER कर  दिया जाता है|

माई नेटवर्क प्लेसेस 

MY NETWORK PLACES विडो में दिखाई देने वाला नेटवर्क ब्राउजर है|इसके बारे में हम आधिक आगे के पाठ्यक्रम में पढेगे |

माई डाक्यूमेटस

माईक्रोसोफ्त विंडो में आमतोर पर MY DOCUMENTS एक विशेष फोल्डर का नाम हटा है| यह एक ऐसा फोल्डर होता है|जहा यूजर अपना निजी डेटा सेफ रखता है|

शार्टकट आइकन्स

अगर हम पीछे दिखाई गये डेस्कटॉप में ध्यान से देखे तो वहा एक तस्वीर है| जिसमे एक काला तीर का निशान दिखाई देगा| यह निशान आपको बताता है कि यह एक शार्टकट आइकन है| शार्टकट आइकन से वो प्रोग्राम खुल जायेगा जो किसी ने डेस्कटॉप में सेट किया था|

फ़ाइल् फोल्डर और फ़ाइल्    

फ़ाइल्  

जिसमे किसी भी तरह की जानकारी या डेटा होता है| उसे फ़ाइल् कहते है यह किसी भी तरह का टेक्स्ट डोक्युमेंट तस्वीरे या स्प्रेशीट आदि हो सकते है कम्प्यूटर फ़ाइल् ठीक हाथ से लिखी पेपर्शीट की तरह होता है जो पुराने समय में इस्तेमाल की जाती  थी| इसे आसानी से सेफ किया जा सकता है और फ़ाइल् या आइकन के नाम से ढूढा जा सस्तन है|  एक टेक्स्ट फ़ाइल् है जिसका नाम computer tutorial है एक इमेल फ़ाइल् है जिसका नाम ancient and abacus है| हम इस आइकन पर क्लिक करके इस फ़ाइल् को खोल सकते|

फोल्डर्स   

एक फोल्डर जैसा की नाम से स्पष्ट है| एक कन्टेनर या स्थान होता है|जिसमे फ़ाइल् रखी जाती है| वास्तविक जीवन में जैसा कागज की फाईलो और डाक्यूमेंट को रखने के लिये फोल्डर का इस्तेमाल किया जाता है|कम्प्यूटर भी ठीक वही काम करता है|फोल्डर्स के अंदर दूसरे फोल्डर्स भी होते है|इन सब फोल्डर फोल्डर कहते है|प्रत्येक सब फोल्डर में भी कई फाइलें और फोल्डर्स हो सकते है|

यह प्रदशिर्त करता है|कि DOCPROP नाम के फोल्डर के अंदर कई फाइलें है| अगर किसी फोल्डर में कोई फ़ाइल् या फोल्डर न हो तो खाली भी हो सकती है

कई फोल्डर्स और फाइलो वाला एक फोल्डर नीचे दिखाया गया है|

पहले से मोजूद फ़ाइल् को खोलना  

सबसे पहले की लोकेशन को ढूढे और फ़ाइल् पर डबल क्लिक करे| आपकी फ़ाइल् उसी एप्लीकेशन में खुल जायेगी जिसके इस्तेमाल से वो बनाई गयी थी| 

फ़ाइल् या फोल्डर को डिलीट करना

फ़ाइल को डिलीट करने के तरीके

1 उस जगह को ढूढे जहा फ़ाइल् सेव की गई है|

2 जिस फ़ाइल् को डिलीट करना है उसे चुने|

3 आप अपने की बोर्ड में डिलीट बटन दबाकर फ़ाइल् डिलीट क्र सकते है या फ़ाइल् पर राइट क्लिक करके डिलीट पर क्लिक क्र सकते है|

फ़ाइल् फोल्डर का नाम बदलना

1 उस जगह जाये जहा फ़ाइल्\फोल्डर सेव किया गया हो|

2 जिस फ़ाइल्\फोल्डर का नाम बदलना हो उस पर क्लिक करे|

3 राइट क्लिक करे जहा RENAME का विकल्प होगा उस पर क्लिक करे|

4 अब आइकन के नीचे नया नाम टाइप क्र दे|

फ़ाइल्\फोल्डर की जगह बदलना

1 ड्रैग एण्ड ड्राप

1 जिस विडो में फ़ाइल् है उसे खोले (इसे विडो एक नाम देते है|)

2 अब उस विडो को खोले जिसमे फ़ाइल् को मूव करना है|(इसे विडो 2 कहते है|)

 3 विडो 1 और विडो 2 को इस तरह रखे जिससे ये एक दूसरे के बाद हों|

4 विडो 1 में फ़ाइल् पर क्लिक करे जिसे जिसे मूव करना है|

5 अब फ़ाइल्;आइकन पर माउस का बाया बंटन दबाये और इसे दबाये रखे और इसे विडो 2 में ले जाये |

6 विडो 2 में पंहुच जाने पर माउस के बाये बटन से दबाव हटा ले|

7 अब आप फ़ाइल् 2 में भी वही आइकन देख सकते है| इसका मतलब है फ़ाइल् विडो 2 में कॉपी हो गई है|

2 फ़ाइल्\फोल्डर कॉपी करना  

हम इच्छुक फ़ाइल् को इस तरह ढूढ़ सकते है|

1 वो जगह ढूढे जहा आपको लगता है|कि फ़ाइल् हो सकती है|

2 विडो में सबसे ऊपर दायी और सर्चबोक्स पर क्लिक करे|

3 सर्चबोक्स में फ़ाइल् का पूरा या आधा नाम टाइप करे जिसे ढूढना चाहते हो

4 ऑपरेटिंग सिस्टम अपने आप फोल्डर के अंदर सभी फोल्डर्स और सब फ़ाइल् में फोल्डर्स को ढूढना शुरू कर देगा और आपके टाइप किये नाम वाली फ़ाइले देखे|

5 जिस फ़ाइल् को खोलना चाहते है उसे चुने|

6 यही प्रक्रिया फोल्डर को ढूढने के लिये भी अपनाई जा सकती है|

4 फ़ाइल् या फोल्डर को देखना

आप फोल्डर में जिस फ़ाइलो को दिखना चाहते है आप उसका तरीका बदल सकते |

1 अप विडो में सबसे ऊपर दांयी ओर VIEW के विकल्प पर क्लिक करके फ़ाइल् को देखने का तरीका बदल सकते है|

2 आइकन के ठीक नीचे तीर के निशान पर क्लिक करे| कुछ विकल्पों के साथ एक छोटी सी लिस्ट दिखाई देगी|

3 अब वो विकल्प चुने जिसके साथ आप फाइलें देखना चाहते है|इसके 5 तरीके है|

० आइकन -इसमें फ़ाइले छोटे से लेकर बड़े आकर के आइकन के रूप में दिखाई देंगी

० सूची- इसमें फाइले एक सूची के रूप में दिखाई देगी

० डिटेल्स -इसमें फाइल संशोधन की तारीख फ़ाइल् के साइज और प्रकार के साथ दिखाई दिगी|

० टाइल्स – इसमें फाइलें एक के बाद एक छोटे छोटे आइकन के रूप में दिखाई देगी|

4 कंटेट – इसमें फाइल की कुछ अतिरिक्त जानकारी लेखक और लेखक और कुछ कंटेट दिखाई देग|

ओपेन

इस विकल्प पर क्लिक करने से पहले से मोजूद एक डोक्युमेंट खुल जायेगा एक बार open पर क्लिक करने पर ये एक विडो खोल देगा जैसा की नीचे दिखाया गया है| अब आप सीधे उस जगह पर जा सकते है जहा फ़ाइल् सेव है| फ़ाइल् मिल जाने पर open पर क्लिक करे और फ़ाइल् खोले|

सेव  

इस विकल्प के द्वारा आप डोक्युमेंट को सेव कर सकते है| अगर आप डोक्युमेंट पहली बार सेव कर रहे है|तो ये SAVE AS विकल्प आपके सामने खोल देगा अब फ़ाइल् को नाम दे और डोक्युमेंट को सेव क्लिक करे|

सेव एज

इस विकल्प ,के द्वारा आप डोक्युमेंट को इच्छुक जगह पर पुराने नाम के साथ सेव कर सकते है|पुराने नाम टाइप करने पर ये आपसे पूछेगा कि आप पुराने फ़ाइल् को हटाना चाहते है| हटाने के लिये YES पर क्लिक करे|

पेज सेव

इस विकल्प के द्वारा आप को इच्छुक फोर्मेट में सेव कर सकते है| आप पेज को पोट्रेट या लैडस्केप मोड़ में सेट कर सकते है| पेज के लिये मर्जिंग सेट कर सकते है या लिखने और प्रिंटिंग के लिये पेज का साइज तय कर सकते है|

प्रिंट

इस विकल्प के द्वारा आप टेक्स्ट फ़ाइल् की हार्डकॉपी प्रिंट कर सकते है|

टेक्स्ट फ़ाइल् प्रिंट करने के लिये निम्न चरण देखे|

1 फ़ाइल् मेनू में जीये और PRINT पर क्लिक करे|

2 प्रिंट विडो में जाकर SELECT PRINTER सेक्शन में जाये और वो प्रिंट चुने जिसे इस्तेमाल करना चाहते है|

3 प्रिंट सोटिंग चुनने के लिये PREFERENCES पर क्लिक करे|उदाहरण के लिये कागज के एक ही तरफ प्रिंट करना चाहते है या दोनों तरफ|

4 Page range सेक्शन में जाकर जितने पेज प्रिंट करना चाहते है उसे उदाहरण के लिये यदि सभी पेज प्रिंट करना हँ तो all को चुने यदि कुछ खास पेज प्रिंट करना है तो page को चुने और पेजों की संख्या कामा (‘) लगाकर या रेंज टेक्स्ट बोक्स में लिखे|

5 प्रिंट होने वाली कॉपी की संख्या चुने|

6 print पर क्लिक करे|

कुछ अन्य महत्वपूर्ण कमान्ड

अनडू\रीडू

UNDO के द्वारा टेक्स्ट अपनी पिछली अवस्था में लोट जाता है| UNDO करने के बाद आपके REDO का विकल्प दिखाई देगा अगर आप बदला गया टेक्स्ट दोबारा पाना चाहते है तो REDO पर क्लिक करे UNDO के लिये की बोर्ड शार्टकट CTRL+Z और RODO के लिये CTRL+Y होता है|

कट

इस विकल्प का इस्तेमाल करने के लिये जिस टेक्स्ट को कट करना चाहते है|उसे सेलेक्ट करें क्लिक करने पर टेक्स्ट गायव और नयी जगह में paste होने के लिये तैयार होगा| टेक्स्ट सिलेक्ट होने के बाद माउस का राइट साइज का बटन दबाए तो यह मेनू खुलेगा वहां से कैंची का निशाना लेने से टेक्स्ट कट हो जाएगा और जहा  ले जाना हो वहा जाके पेस्ट का ऑप्शन लेने से पेस्ट हो जाएगा की बोर्ड पर कट करने का शोर्टकर्ट है ctrl+x और पेस्ट करने का ctrl+v  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *