चित्रकला का स्वर्णकाल किस काल को कहा जाता है

जहाँगीर के समय को चित्रकला का स्वर्णकाल कहा जाता है| जहांगीर ने अपनी आत्मकथा में लिखा की कोई भी चित्र चाहे वः किसी मरे हुए व्यक्ति या जीवित व्यक्ति द्वारा बनाया गया हो , मै देखते ही तुरंत बता सकता हूँ कि यह किस चित्रकार की कृति है| यदि किसी चेहरे पर आंख किसी एक चित्रकार ने , भोह किसी और ने बनाई हो, तो भी यह जान लेता हूँ की आंख किसने और भोह किसने बनायी है|