द्विगु समास

                          समास

समास का शाब्दिक अर्थ हें संक्षिप्त या संक्षेप  

जेसे – राजपुत्र , देशभक्ति

परिभाषा – दो या दो से अधिक शब्दों से मिलकर बे एक नये साथर्क शब्दों को समास कहते हें|

समास के 6 प्रकार के होते हें –

याद करने की ट्रिक – अब तक दादा

(अ)- अव्ययीभाव समास

(ब)- बहुब्रीहि समास

(त)- तत्पुरुष समास

(क)- कर्मधारय समास

(द)- द्वन्द समास

(द)- द्विगु समास

द्विगु समास- जिस समास का पहला पद संख्यावाचक विशेषण हो और उत्तर पद प्रधान हो तो वह द्विगु समास कहलाता हें|

उदाहरण– * चौराह , शताब्दी, सप्ताह , दोपहर, तिराहा, त्रिफला, चौपाल छमाही, त्रिलोक,सप्तसिन्धु, सप्तऋषि, अष्ठासिद्धि आदि शब्द

( चौराह – चार राहों का समहू) = द्विगु समास

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *