उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश का राजकीय पुष्प

उत्तर प्रदेश का राजकीय पुष्प – पलाश,टेसू तथा ढाक जिसका English नाम फ्लेम ऑफ़ द फोरेस्ट एवं वैज्ञानिक नाम ब्यूटिया मोनोस्पर्मा हें| इसका आकार 1.5 से 2 इंच के नारंगी लाल रंग के पुष्प जो फरवरी, मार्च के मध्य खिलते हें|

उत्तर प्रदेश का राजकीय व्रक्ष

उत्तर प्रदेश का राजकीय व्रक्ष अशोक हें| जिसका English नाम अशोक एव वैज्ञानिक नाम सराका असोका हें| स्थानीय भाषा में इसे सीता अशोक के नाम से भी जाना जाता हें| सामान्यत: यह व्रक्ष सघन छत्र होने के करण उधानो, मार्गो के किनारे, आवास परिसरों और मन्दिरों में भी लगाया जाता हें|

उत्तर प्रदेश का राजकीय पक्षी

उत्तर प्रदेश का राजकीय पक्षी सारस या क्रोंच जिसका English नाम सारस, क्रेन और वैज्ञानिक नाम ग्रूस एंटीगोन हें| लगभग 6 फीट ऊचाई एवं 8 फीट  तक पंखो के विस्तार के साथ कद में उड़ने वाले पक्षियों में सबसे ऊचा पक्षी हें| सारस उत्तरी एवं केन्द्रीय भारत एवं पाकिस्तान तथा नेपाल में पाए जाते हें|

उत्तर प्रदेश की राजकीय मछली/जलीय जीव

उत्तर प्रदेश की राजकीय मछली – मोय चीतल हें जिसका English में नाम चीतल एवं वैज्ञानिक नाम चिताला हें| यह भारत में गंगा, ब्रह्मपुत्र, गेरुआ,सतलुज,केन, महानदी,और बेतना नदियों में पाई जाति हें इसकी अधिकतम लम्बाई 150cm एवं अधिकतम वजन 14kg होता हें|

उत्तर प्रदेश का राजकीय पशु

उत्तर प्रदेश का राजकीय पशु बारहसिंगा हें इसको English में स्वेम्प डियर कहते हें इसका वैज्ञानिक नाम रूसरवस डूवाओसेली हें| इस जीव की उचाई 130-135CM वजन 180KG के आसपास तथा सींगो की लम्बाई 75CM होती हें|

उत्तर प्रदेश का राजकीय चिन्ह

उत्तर प्रदेश का राजकीय चिन्ह – एक वृत्त में 2 मछली तथा एक तीर- धनुष, और बीच में बहती गंगा यमुना नदिया, उत्तर प्रदेश के राजकीय चिन्ह को 1938 में स्वीकृत किया गया |