vilomshabd in hindi-विलोम शब्द / विपरीतार्थक शब्द

विलोम शब्द शब्दों के अपने निश्चित अर्थ होते हैं इसके विपरीत अर्थ को वहन करने वाले शब्द विपरीतार्थक या विलोम शब्द कहलाते है। संज्ञा के विपरीतार्थक शब्द संज्ञा तथा विशेषण के विपरीतार्थक शब्द सर्वदा विशेषण ही होते हैं। विपरीतार्थक शब्दों को रचना की प्रकारों से होती है। कभी मूल शब्द में उपसर्ग लगाकर विपरीतार्थक शब्द बनाया जाता है तो कभी कभी पूर्णतया कोई भिन्न शब्द विपरीत अर्थ के लिए प्रयुक्त होते हैं। विपरीतार्थक शब्द बनाने के लिए सात नियम हैं।
1. लिंग परिवर्तन द्वारा जैसे= भाई-बहन, लड़का- लड़की , इत्यादि


2. उपसर्ग की सहायता से जैसे= आस्था- अनास्था, ईश्वर-अनीश्वर इत्यादि
3. न समास के पद रूप में जैसे= सार्थक- निसार्थ, अनाथ- सनाथ इत्यादि
4. भिन्न जातीय शब्दों द्वारा जैसे= स्वतंत्र- परतन्त्र, अंतर्मुखी- बहिर्मुखी, इत्यादि
5. प्रत्यय के समान प्रयोग द्वारा जैसे= उदयाचल- अस्ताचल, इत्यादि
6. प्रचलित शब्दों द्वारा जैसे = अमृत- विष, अधम- उत्तम, इत्यादि
7. स्वतंत्र शब्दों द्वारा जैसे= अधूरा- पूरा अमीरी-गरीबी इत्यादि
महत्वपूर्ण विलोम शब्द
शब्द ……..विलोम
1.अनाथ ……सनाथ
2.असभ्य … सभ्य
3. अवनति.. उन्नति
4. अनावरण … आवरण
5. अल्पायु… दीर्घायु
6. अशुभ — शुभ
7.अवनत … उन्नत
8. अकर्मण्य .. कर्मण्य
9. अपेक्षा .. उपेक्षा
10. अज्ञानी .. ज्ञानी
11. अग्रज … अनुज
12. आकर्षण … विकर्षण
13. उधम .. उत्तम
14. अनुचित .. उचित
15. आदान ..प्रदान
16. अक्षम .. सक्षम
17. आस्था ..अनास्था
18. अनुकूल .. प्रतिकूल
19. आज्ञा ..अवज्ञा
20. अतव्रष्टि ..अनावर्ष्टि
21. अपकर्ष .. उत्कर्ष
22. इहलौकिक ..पारलौकिक
23. अमग …सुगम
24. इच्छा ..अनिच्छा
25. अतल …वितल
26. ईश्वर ..अनीश्वर
27. अवनि..अम्बर
28. ईमानदार ..बेईमान
29.अस्त ..उदय
30. दुर्जन .. सज्जन
31. उत्तीर्ण .. अनुत्तीर्ण
32. ध्वंस ..निर्माण
33. नूतन .. पुरातन
34. उत्थान .. पतन
35. न्यून .. अधिक
36. उत्साह .. निरुत्साह
37. निरक्षर .. सक्षर
38. उदात्त ..अनुदात्त
39. परमार्थ ..स्वार्थ
40. उन्नति ..अवनित
41. प्रव्रत्ति..निव्रत्ति